anand mahindra biography in hindi

इस आर्टिकल Anand Mahindra Biography In Hindi – Success Story Of Anand Mahindra में हम Anand Mahindra के बारे में पूरी जानकारी share करेंगे, इसमें हम Anand Mahindra के जीवन के सभी महत्वपूर्ण बिन्दुओं जैसे income of Anand Mahindra, Success Story Of Anand Mahindra, तथा इनके द्वारा किये गए महत्वपूर्ण कार्यों तथा उपलब्धियों के बारे में Detail से जानेंगे| इसलिए आप इस आर्टिकल Anand Mahindra Biography In Hindi को Carefully पढ़ें |

Anand Mahindra भारत की एक बड़ी कंपनी “Mahindra And Mahindra Limited” के Chairman और Managing director हैं। भारत की 10 बड़ी कंपनियों में से एक Mahindra Group है। “Mahindra And Mahindra Limited” कम्पनी की शुरुआत पंजाब के लुधियाना शहर में Anand Mahindra के दादा और उनके भाइयों ने मिलकर रखी।

Anand Mahindra ने अपनी मेहनत से अपने पूरे Business को भारत ही नहीं पुरे World में फैला दिया और इनकी कम्पनी एयरोस्पेस, एग्रीबिजनेस, ऑफ्टरमार्केट, ऑटोमोटिव, कंस्ट्रक्शन इक्विपमेंट, डिफेंस, एनर्जी, फाइनेंस एंड इंश्योरेंस, आईटी, हॉस्पिटैलिटी, लॉजिस्टिक्स और रिटेल समेत कई सेक्टर में कारोबार कर रहा है | Mahindra Tractor, Mahindra Cars, Mahindra Trucks, Mahindra Buses, और Mahindra Bikes तथा Banking Services आदि क्षेत्रों में अच्छा नाम कमाया है।

Anand Mahindra Biography In Hindi - Success Story Of Anand Mahindra
Source: Hindustan Times

Anand Mahindra जैसे बड़े Entrepreneur की सफलता की Story पढ़ने से हमें भी उनके मार्ग का अनुसरण करने की सीख मिलती है | Anand Mahindra Biography In Hindi: Automobile Industry में आनंद महिंद्रा “Mahindra And Mahindra Limited” का नाम भारत की शीर्ष कम्पनियों में आता है।

महिंद्रा ने महिंद्रा समूह को यूटिलिटी व्हीकल (UVs), मल्टी यूटिलिटी व्हीकल (MUV) और स्पोर्ट्स यूटिलिटी व्हीकल (SUV) के साथ एक बहु-राष्ट्रीय इकाई के लिए एक सिर्फ़ जीप और ट्रक बनाने वाली सामान्य कंपनी से आगे बढाया है। वह Kotak Mahindra Finance Limited के सह-प्रमोटर भी थे, जो निजी क्षेत्र के बड़े बैंकों में से एक बन गया।

Also Read: Mahendra Singh Dhoni Biography In Hindi

Early life of Anand Mahindra

(आनन्द महिन्द्रा का प्रारम्भिक जीवन)

1 मई, 1955 को मुंबई में जन्मे, भारत के एक प्रसिद्ध व्यवसायी परिवार में आनंद ने अपने दादा केसी में गहरी दिलचस्पी दिखाई। Mahindra का व्यवसाय और बाद में इसमें शामिल हो गए। उन्होंने हार्वर्ड कॉलेज, मैसाचुसेट्स से स्नातक की पढ़ाई पूरी की और फीनिक्स एसके क्लब के सक्रिय सदस्य थे। उन्होंने हार्वर्ड बिजनेस स्कूल, बोस्टन, मैसाचुसेट्स से 1981 में एमबीए की डिग्री हासिल की। ​Anand Mahindra Biography In Hindi

एमबीए की पढ़ाई करने से पहले, आनंद हार्वर्ड विश्वविद्यालय में एक फिल्म प्रमुख थे। 1981 में, वह भारत लौट आए और महिंद्रा यूजिन स्टील कंपनी में कार्यकारी सहायक के रूप में शामिल हुए। 2003 में उन्होंने उपाध्यक्ष की अतिरिक्त जिम्मेदारी संभाली। उनके सक्षम मार्गदर्शन और नेतृत्व के तहत, Mahindra समूह ने सफलता के लिए अंतरराष्ट्रीय मानक निर्धारित किए और नई उदारीकृत अर्थव्यवस्था में एक कुशल और आक्रामक Compititer बन गये। Anand Mahindra Biography In Hindi

Anand Mahindra Biography In Hindi - Success Story Of Anand Mahindra
Source: thehindubusinessline

Details Of Anand Mahindra

जन्म 01 मई 1955
आवास मुम्बई, महाराष्ट्र, भारत
शिक्षा  The Lawrence SchoolHarvard University, Harvard Business School
व्यवसायChairman and Managing Director of Mahindra And Mahindra Limited
Net Worth150 crores USD (2020) Forbes
जीवनसाथी Anuradha Mahindra
ParentsHarish Mahindra, Indira Mahindra
ChildrenAalika Mahindra, Divya Mahindra
Anand Mahindra Biography In Hindi – Success Story Of Anand Mahindra

Achievements of Anand Mahindra (Success Story Of Anand Mahindra)

  • फॉर्चून मैगजीन ने 2011 में आनंद महिंद्रा को एशिया के 25 सबसे शक्तिशाली कारोबारी शख्स और दुनिया के 50 सबसे महान लीडर्स की सूची में रखा.
  • फोर्ब्स (इंडिया) ने 2013 में उन्हें Entrepreneur Of The Year घोषित किया था.
  • बैरन की 2016 की लिस्ट में महिंद्रा को दुनिया के 30 सीईओ की सूची में रखा गया.
  • Anand Mahindra को फ्रांस के राष्ट्रपति द्वारा सन 2004 में विशेष सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ मेरिट’ से सम्मानित किया गया था और इन्हें व्यवसाय के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए ‘राजीव गांधी पुरस्कार’ से भी सम्मानित किया जा चुका है।Anand Mahindra Biography In Hindi
  • आनंद महिंद्रा को सन 2005 में ‘पर्सन ऑफ द ईयर’ ऑटो मॉनिटर और ‘लीडरशिप अवार्ड’ अमेरिकन इंडिया फाउंडेशन द्वारा कॉर्पोरेट जगत में सामाजिक जिम्मेदारी के प्रति अपनी प्रतिबद्धताओं के लिए “Mahindra And Mahindra Limited” को मिला था।
  • सन 2006 में Anand Mahindra को ‘CNBC एशिया बिजनेस लीडर’ पुरस्कार और ‘लुधियाना मैनेजमेंट एसोसिएशन’ द्वारा ‘वर्ष के उद्यमी पुरस्कार’ से नवाजा गया था।
  • इसी क्रम में सन 2007 में ‘NDTV प्रॉफिट’ ने इन्हें वर्ष का सबसे प्रेरणादायक ‘कॉर्पोरेट लीडर’ के सम्मान से सम्मानित किया था।
  • Mahindra को सन  2008-2009 में बिजनेस लीडर के रूप में ‘Economic Times Award’ भी प्राप्त हुआ था।
  • हाल ही में Anand Mahindra को ‘डेली न्यूज एंड एनालिसिस’ द्वारा मुंबई के सबसे प्रभावशाली पुरुषों और महिलाओं में एक के रूप में चयनित किया गया है।
  • इनके ‘फार्म इक्विपमेंट सेक्टर’ को ‘जापान क्वालिटी मेडल’ प्राप्त हुआ है। यह सम्मान प्राप्त करने वाली विश्व की यह एकमात्र ट्रैक्टर कंपनी (Mahindra Tractor) है। ‘डेमिंग पुरस्कार’ जीतने वाली भी यह विश्व की एकमात्र कंपनी है।Anand Mahindra Biography In Hindi

Anand Mahindra से जुड़ी दिलचस्प बातें

Twitter पर सबसे सक्रिय Businessman

  • Anand Mahindra को बिजनेस की कितनी समझ है, इसका अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि उन्होंने 1985 में कोटक ग्रुप में 1 लाख रुपये का निवेश किया था जिसकी बढ़कर अब 1400 करोड़ रुपये से भी अधिक हो गई है. ऐसा नहीं है कि आनंद महिंद्रा दुसरे Businessman की तरह Business में ही व्यस्त रहने वाले कारोबारी हैं. Mahindra ट्विटर पर हंसी-मजाक, post शेयर करना, नए idea लेने, और यहाँ तक की Twitter के माध्यम से Job भी ऑफर करते हैं | Anand Mahindra Biography In Hindi

घोड़े पर सवार होकर परीक्षा देने जाने वाली छात्रा है स्क्रीन सेवर

  • थोड़े समय पहले एक खबर मिली की केरल में एक लड़की घोड़े पर बैठकर स्कूल में परीक्षा देने जा रही है तो Mahindra वहाँं के लोगों से उस लड़की की फोटो Twitter पर मांगी और कहा कि वो उस लड़की की Photo को स्क्रीन सेवर लगाना चाहते हैं क्योंकि उसके स्कूल जाने के उत्साह से उन्हें भी भविष्य के लिए PositiveEnergy मिलती है . एक Twitter User सुबिन ने उन्हें लड़की की Photo मेल में भेजा तो उन्होंने सुबिन को Thanks कहते हुए tweet किया |Anand Mahindra Biography In Hindi
Anand Mahindra Biography In Hindi - Success Story Of Anand Mahindra
Source: Twitter

11 साल की बच्ची से नई गाड़ी की स्पेशिफिकेशंस के लिए आइडिया

महिंद्रा ने 3 अप्रैल को एक पत्र ट्वीट किया था जो 7वीं कक्षा में पढ़ने वाली 11 वर्षीय छात्रा Mahika Mishra ने लिखा. महिका ने अपनी यात्रा का एक अनुभव लिखा कि लोग बेवजह Horn बजाते रहते हैं जिससे ध्वनि प्रदूषण बढ़ता है. Anand Mahindra Biography In Hindi

छात्रा ने एक Idea दिया कि महिंद्रा भविष्य में अपनी कारों में ऐसा हॉर्न लगाएं जिसको 10 मिनट में 5 बार ही बजाया जा सके और हर बार Horn बजाने में 3 Second का गैप होना चाहिए. महिंद्रा ने यह पत्र शेयर करते हुए लिखा कि, “दिन भर की थकान के बाद इस प्रकार का कुछ दिख जाता है तो थकान दूर हो जाती है. मैं जानता हूं मैं उस बच्ची की तरह के लोगों के लिए काम कर रहा हूं जो एक बेहतर और शांत दुनिया चाहते हैं |

अगर आपको Anand Mahindra के बारे में यह आर्टिकल Anand Mahindra Biography In Hindi – Success Story Of Anand Mahindra अच्छा लगा हो तो कमेंट करके बताएं |

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *